चाय विकास योजना 2024 | Chai Vikas Yojana | बिहार के चाय उत्पादकों को 90% सब्सिडी प्राप्त करें | Online Registration, Eligibility and Benefits

Chai Vikas Yojana:- देश के किसानों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए सरकार द्वारा विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही हैं। इसी तरह, बिहार सरकार द्वारा चाय उत्पादक किसानों के लिए चाय विकास योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से, चाय उत्पादक किसानों को चाय के खेती में 50 से 90% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। इससे किसानों को चाय उत्पादन में सहायक होगा और उन्हें नई तकनीकों का भी लाभ होगा।

Chai Vikas Yojana
Chai Vikas Yojana
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

यदि आप भी बिहार के एक चाय किसान हैं और सब्सिडी प्राप्त करने का एक अवसर पाना चाहते हैं, तो आपको चाय विकास योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आज हम इस लेख के माध्यम से चाय विकास योजना 2023-24 के संबंध में आपको पूरी जानकारी प्रदान करेंगे। इसलिए, आपको इस लेख को ध्यानपूर्वक आखिर तक पढ़ना होगा।

चाय विकास योजना 2023-24 (Chai Vikas Yojana)

चाय उगाने वाले किसानों के लिए बिहार सरकार ने चाय विकास योजना शुरू की। चाय उगाने वाले किसानों को इस प्रणाली के माध्यम से 50% से 90% तक सब्सिडी मिलेगी। चाय विकास योजना के तहत, 2023-24 में किशनगंज जिले में चाय क्षेत्र का विस्तार किया जाएगा। चाय क्षेत्र का विस्तार करने के लिए, किसानों को स्वयं चाय बागवानी सामग्री खरीदनी होगी। इसके बाद, चाय की खेती कर रहे किसानों को ग्रांट प्रदान किया जाएगा, 75:25 अनुपात के अनुसार, दो किस्तों में।

चाय विकास योजना के तहत, बिहार सरकार 2024-25 के वित्तीय वर्ष में यदि पिछले वर्ष लगाए गए पौधे में 90 प्रतिशत बच जाएं तो शेष राशि के लिए लाभार्थी किसानों को दूसरी किस्त के रूप में शेष राशि का 25% देगी। इस योजना के लाभ को प्राप्त करके किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। साथ ही, चाय उत्पादकों को प्रोत्साहित किया जाएगा।

बिहार चाय विकास योजना की जानकारी (Chai Vikas Yojana Details in Highlights)

Yojana Name Chai Vikas Yojana 2023-24
शुरू की गई बिहार सरकार द्वारा  
राज्य बिहार
वर्ष 2023
संबंधित विभाग   बिहार सरकार कृषि विभाग
लाभार्थी बिहार राज्य में चाय की खेती करने वाले किसान  
उद्देश्य चाय क्षेत्र के विस्तार को प्रोत्साहित करना
सब्सिडी राशि 2.47 लाख रुपये प्रति हेक्टेयर की लागत पर
आवेदन प्रक्रिया   ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट   https://horticulture.bihar.gov.in/
हेल्पलाइन नंबर 0612 2547772

चाय विकास योजना का उद्देश्य (Chai Vikas Yojana Objective)

बिहार सरकार द्वारा चाय विकास योजना की मुख्य उद्देश्य है राज्य में चाय के क्षेत्र को बढ़ाने के लिए किसानों को सब्सिडी प्रदान करना। ताकि दान की राशि का लाभ उठाकर किसान चाय उत्पादन में नई तकनीक का उपयोग कर सके। जिससे किसानों की आय भी बढ़े।

राज्य सरकार किसानों को 2.47 लाख रुपये की सब्सिडी देगी 

बिहार सरकार के चाय विकास योजना के तहत, यदि किसान इस योजना में शामिल होता है तो उसे सब्सिडी दी जाएगी। बिहार सरकार के उद्यानिक निदेशालय के अनुसार, चाय क्षेत्र के विस्तार के लिए हर हेक्टेयर के लिए लागत को 4.94 लाख रुपये पर तय किया गया है। इस योजना के तहत, किसानों को 50% (75:25) दान किया जाएगा। इसका मतलब है कि बिहार सरकार राज्य के किसानों को हर हेक्टेयर की लागत पर 2.47 लाख रुपये की सब्सिडी देगी। इस सब्सिडी राशि का उपयोग करके, किसानों को चाय के उत्पादन को बढ़ाने में मदद की जाएगी।

कौन-कौन सी बागवानी उपकरणों पर मिलेगी सब्सिडी? (Chai Vikas Yojana Subsidy)

चाय विकास योजना के तहत, निम्नलिखित बागवानी उपकरणों को किसानों के लिए प्रबंधन के लिए उपलब्ध कराया जाएगा और उन पर किसानों को सब्सिडी दी जाएगी। प्रदान की जाने वाली उपकरणों के विवरण इस प्रकार हैं।

  • प्र्यूनिंग मशीन:- इस उपकरण को उन किसानों को सस्ते दरों पर उपलब्ध किया जाएगा, जो कम से कम 5 एकड़ (2 हेक्टेयर) में चाय खेती कर रहे हैं। इस मशीन की वास्तविक मूल्य की 50% या अधिकतम 60,000 रुपये, जो भी कम है, को सब्सिडी के रूप में प्रदान किया जाएगा। किसानों को उसके हिसाब से अनुदान प्रदान किया जाएगा।
  • मैकेनिकल हार्वेस्टर:- यह मशीन उन किसानों को सस्ते दरों पर मिलेगी, जो कम से कम 5 एकड़ (2 हेक्टेयर) में चाय खेती कर रहे हैं। मैकेनिकल हार्वेस्टर की वास्तविक मूल्य की 50% या अधिकतम 50,000 रुपये, जो भी कम है, को सब्सिडी के रूप में लागू किया जाएगा। उस अनुदान को किसानों को दिया जाएगा।
  • प्लकिंग शीयर:- इस मशीन को उन किसानों को सस्ते दरों पर मिलेगी, जो कम से कम 5 एकड़ (2 हेक्टेयर) में चाय खेती कर रहे हैं। इस मशीन की वास्तविक मूल्य की 50% या अधिकतम 11,000 रुपये, जो भी कम है, को सब्सिडी के रूप में प्रदान किया जाएगा। किसानों को इस उपकरण के लिए अनुदान दिया जाएगा।
  • लीफ कैरिज व्हीकल:- इस मशीन को उन किसानों को सस्ते दरों पर मिलेगी, जो कम से कम 10 एकड़ (4 हेक्टेयर) में चाय खेती कर रहे हैं। पत्तियों को ले जाने वाले व्हीकल की वास्तविक मूल्य की 50% या अधिकतम 7,50,000 रुपये, जो भी कम है, को सब्सिडी के रूप में प्रदान किया जाएगा।
  • लीफ कलेक्शन शेड:- इस मशीन को उन किसानों को सस्ते दरों पर मिलेगी, जो कम से कम 5 एकड़ (2 हेक्टेयर) में चाय खेती कर रहे हैं। इस शेड की वास्तविक मूल्य की 50% या अधिकतम 37,500 रुपये, जो भी कम है, को सब्सिडी के रूप में प्रदान किया जाएगा। इस अनुदान की माध्यम से किसानों को सहायता मिलेगी।
Chai Vikas Yojana
Chai Vikas Yojana

बिहार चाय विकास योजना 2023-24 के लाभ और विशेषताएं

  • चाय किसानों को सब्सिडी राशि का लाभ: बिहार सरकार योजना के तहत चाय किसानों को सब्सिडी राशि का लाभ प्रदान करेगी।
  • चाय खेती का विस्तार करने के लिए 50 से 90% की सब्सिडी: इस योजना के अंतर्गत, किसानों को 50 से 90% की सब्सिडी का लाभ होगा, जिससे चाय की खेती को बढ़ावा मिलेगा।
  • राज्य सरकार द्वारा 2.47 लाख रुपये प्रति हेक्टेयर की सब्सिडी: बिहार सरकार राज्य के किसानों को प्रति हेक्टेयर लागत की 2.47 लाख रुपये की सब्सिडी प्रदान करेगी।
  • सब्सिडी राशि का सीधा बैंक खाता में हस्तांतरण: योजना के तहत सब्सिडी राशि को लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे हस्तांतरित किया जाएगा।
  • चाय की खेती में आसानी: चाय विकास योजना के लाभ से किसान आसानी से चाय की खेती कर सकेंगे।
  • नई तकनीकों का उपयोग करने का लाभ: योजना से चाय किसान नई तकनीकों का उपयोग करने में सक्षम होंगे।
  • राज्य में चाय की खेती का विस्तार: इस योजना से राज्य में चाय की खेती में विस्तार होगा।
  • किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार: चाय विकास योजना के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।

चाय विकास योजना के लिए पात्रता (Chai Vikas Yojana Eligibility)

  • योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक का बिहार राज्य का निवासी होना आवश्यक है।
  • यह योजना केवल चाय उगाने वाले किसानों के लिए उपलब्ध होगी।
  • केवल वे किसान जो 5 एकड़ से 10 एकड़ तक की ज़मीन में चाय की खेती कर रहे हैं, वे इस योजना के लिए पात्र होंगे।

चाय विकास योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़ (Chai Vikas Yojana Documents)

  • आधार कार्ड
  • किसान कार्ड
  • पता प्रमाणपत्र
  • आय प्रमाणपत्र
  • कृषि से संबंधित दस्तावेज़
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

चाय विकास योजना के तहत आवेदन कैसे करें? (Chai Vikas Yojana Online Apply)

यदि आप बिहार राज्य के किसान हैं और चाय विकास योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, तो नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करके आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं:

  • सबसे पहले, आपको बिहार सरकार कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद, वेबसाइट के होम पेज पर जाकर “योजनाएं” ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • अब आपको बिहार सरकार द्वारा चलाई जाने वाली विभिन्न योजनाओं के नाम दिखेंगे।
  • “लागू करें” विकल्प पर क्लिक करके चाय विकास योजना चुनें।
  • आपको इस योजना से संबंधित मुख्य बिंदुओं को ध्यान से पढ़ना होगा। इन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ें, उन्हें टिक करें और “सहमत हूँ और जारी रखें” ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद एक नया पृष्ठ खुलेगा, जहां आपको आवेदन का प्रकार चुनना होगा और किसान पंजीकरण संख्या दर्ज करनी होगी।
  • फिर आपको “सबमिट” बटन का चयन करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन करने के लिए एक फॉर्म आ जाएगा।
  • आपको आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा और सभी आवश्यक दस्तावेज़ अपलोड करने के बाद “सबमिट” ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • पूरे प्रक्रिया को पूरा करने के बाद, आपको एक आवेदन की पुष्टि मिलेगी जिसे आपको प्रिंट करके सुरक्षित रखना होगा।
बिहार चाय विकास योजना
बिहार चाय विकास योजना

बिहार चाय विकास योजना हेल्पलाइन नंबर

आपने जाना कि बिहार चाय विकास योजना क्या है और इसके लाभ प्राप्त करने के लिए कैसे आवेदन करें। इस योजना से संबंधित और अधिक जानकारी के लिए हमने इस योजना के हेल्पलाइन नंबर भी दिया है, जिस पर आप संपर्क करके या अपनी शिकायत दर्ज करके और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर:- 0612 2547772

इस नंबर पर संपर्क करके आप योजना के बारे में और जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

Conclusion

इस लेख में हमने चाय विकास योजना 2023-24 के बारे में विस्तार से चर्चा की है। यह योजना बिहार सरकार द्वारा चलाई जा रही है और इसका उद्देश्य राज्य में चाय के क्षेत्र को बढ़ाना है और किसानों को इसमें सब्सिडी प्रदान करना है। यह योजना चाय उत्पादन में नई तकनीकों का उपयोग करने में मदद करेगी और किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार करेगी।

Chai Vikas Yojana Important Links

Official Website Click Here
Join our Telegram group Click Here
Join our Whatsapp group Click Here
Home Page Click Here

Chai Vikas Yojana FAQs

Q:- चाय विकास योजना का आवेदन कैसे करें?

Ans:- बिहार राज्य के किसान ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, जिसकी पूरी प्रक्रिया इस लेख में बताई गई है।

Q:- चाय विकास योजना के तहत सब्सिडी कैसे मिलेगी?

Ans:- योजना के अंतर्गत, किसानों को हर हेक्टेयर की लागत में 2.47 लाख रुपये की सब्सिडी प्रदान की जाएगी, जो सीधे उनके बैंक खाते में DBT के माध्यम से भेजी जाएगी।

Q:- क्या योजना के तहत केवल चाय खेती कर रहे किसान ही पात्र हैं?

Ans:- हाँ, इस योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को चाय खेती कर रहे होना चाहिए।

Q:- योजना के लिए आवेदन करने के लिए कितने एकड़ ज़रूरी हैं?

Ans:- योजना के लिए केवल वे किसान पात्र होंगे जो कम से कम 5 एकड़ से 10 एकड़ तक चाय खेती कर रहे हैं।

Q:- कौन-कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं आवेदन के लिए?

Ans:- आधार कार्ड, किसान कार्ड, पते का प्रमाणपत्र, आय प्रमाणपत्र, कृषि संबंधित दस्तावेज़, मोबाइल नंबर, पासपोर्ट आकार की फोटो।

Q:- हेल्पलाइन नंबर पर कैसे संपर्क करें?

Ans:- हेल्पलाइन नंबर 0612 2547772 पर संपर्क करके आप योजना के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

Q:- कैसे पता करें आवेदन का स्थिति?Ans:- आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन की स्थिति की जांच कर सकते हैं या हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Comment