राजस्थान इ-सखी योजना 2024 | Rajasthan E-Sakhi Yojana | Registration Online, Eligibility and Benefits @esakhi.rajasthan.gov.in

Rajasthan E-Sakhi Yojana:- डिजिटल युग से महिलाओं को जोड़ने के लिए, उन्हें पहले डिजिटल साक्षर बनाना बहुत महत्वपूर्ण है। इसके लिए राजस्थान सरकार ने अपने राज्य में राजस्थान ई-सखी योजना की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से, राजस्थान की 1.5 लाख महिलाओं को डिजिटल साक्षर बनाया जाएगा। यह प्रशिक्षण पूरी तरह से मुफ्त में प्रदान किया जाएगा। 

Rajasthan E-Sakhi Yojana
Rajasthan E-Sakhi Yojana
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

यदि आप राजस्थान के निवासी हैं और राजस्थान ई-सखी योजना में डिजिटल साक्षरता प्राप्त करने में रुचि रखती हैं, तो आपको ई-सखी मोबाइल ऐप को अपने मोबाइल में डाउनलोड करना होगा। आप इस ऐप के माध्यम से अपना आवेदन पूरा कर सकती हैं। तो इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आप ई-सखी मोबाइल ऐप को कैसे डाउनलोड कर सकती हैं और इस ऐप के माध्यम से अपना आवेदन कैसे सबमिट कर सकती हैं।

Table of Contents

Rajasthan E-Sakhi Yojana 2024 (राजस्थान ई-सखी योजना)

राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने राजस्थान ई-सखी योजना की शुरुआत की थी ताकि राज्य की महिलाएं डिजिटल साक्षर बन सकें। इस योजना के माध्यम से, राज्य की 1.5 लाख स्वयंसेवियों को पंजीकृत किया जाएगा और उन्हें नि: शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा ताकि वे डिजिटल प्लेटफॉर्म के बारे में साक्षर हो सकें। 

प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद, महिला को ई-सखी कहा जाएगा। फिर यह ई-सखी कम से कम 100 महिलाओं को गाँव और शहर में डिजिटल सेवा का उपयोग करना सिखाएगी। राजस्थान ई-सखी योजना का मुख्य उद्देश्य है कि हर गाँव के एक महिला को ई-सखी के माध्यम से डिजिटल साक्षरता प्रदान की जाए, क्योंकि एक महिला पूरे परिवार को शिक्षित करेगी और फिर राजस्थान का डिजिटल सपना साकार पूरा होगा।

राजस्थान ई-सखी योजना की जानकारी (Rajasthan E-Sakhi Yojana Details in Highlights)

Yojana Name Rajasthan E-Sakhi Yojana 2024
शुरू की गई मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने
राज्य बिहार
वर्ष 2024
लाभार्थी राजस्थान की महिलाएं
उद्देश्य घर में डिजिटल साक्षरता के लिए प्रशिक्षण प्रदान करना
ट्रेनिंग शुल्क फ्री ट्रेनिंग
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट https://esakhi.rajasthan.gov.in/
हेल्पलाइन नंबर 181

ई-सखी योजना राजस्थान का उद्देश्य (Rajasthan E-Sakhi Yojana Objective)

अब तक राजस्थान के लोगों का अधिकांश डिजिटल युग में शामिल हो चुका है। लेकिन राज्य के कई शहरी क्षेत्रों और ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाएं अब तक डिजिटल युग में शामिल नहीं हो सकी हैं। जिसका मुख्य कारण यह है कि उन्हें डिजिटल शिक्षा के बारे में जानकारी की पहुंच नहीं है। लेकिन अब राजस्थान ई-सखी योजना के माध्यम से, महिलाओं को डिजिटल युग में शामिल होने के लिए शिक्षा प्रदान की जाएगी। 

इस योजना का मुख्य उद्देश्य है डिजिटल राजस्थान के सपने को साकार करना। इसके तहत, सरकार द्वारा 1.5 लाख महिलाओं को डिजिटल प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके बाद ये महिलाएं शहरों और गाँवों में दरवाजे-दरवाजे जाकर महिलाओं को डिजिटल शिक्षा प्रदान करेंगी। लेकिन राजस्थान ई-सखी योजना के तहत, सिर्फ वही महिलाएं प्रशिक्षण प्राप्त कर सकती हैं जिन्होंने कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो।

Rajasthan E-Sakhi Yojana
Rajasthan E-Sakhi Yojana

राजस्थान ई-सखी योजना, प्रशिक्षण की अवधि और स्थान का विवरण

इस योजना द्वारा चलाई जाने वाली मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे द्वारा, महिलाओं को कितने दिनों तक और कहां पर प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा, हम नीचे इसकी सभी जानकारी प्रदान कर रहे हैं।

  • प्रशिक्षण का समय: प्रशिक्षण का समय 14 घंटे होगा। जो प्रतिदिन 2 घंटे की आधार पर दिया जाएगा। इस तरह, यह प्रशिक्षण 7 दिनों के लिए दिया जाएगा।
  • ई-सखी योजना के तहत प्रशिक्षण: ई-सखी योजना के तहत, प्रशिक्षण राजस्थान नॉलेज कॉर्पोरेशन लिमिटेड के नजदीकी आईटी जीकेस या आईटी नॉलेज सेंटर्स में दिया जाएगा।
  • ई-सखी योजना के शुल्क: इस प्रशिक्षण के लिए महिलाओं को कोई भी शुल्क नहीं देना होगा क्योंकि यह प्रशिक्षण पूरी तरह से मुफ्त में प्रदान किया जाएगा।

राजस्थान ई-सखी योजना के अंतर्गत डिजिटल प्रशिक्षण पाठ्यक्रम  (E-Sakhi Yojana Rajasthan Digital Training Course)

  • भामाशाह योजना: इसके तहत, महिलाओं को सूचना प्रौद्योगिकी के साथ जोड़ा जाएगा और उन्हें भामाशाह कार्ड की महत्वपूर्णता के बारे में शिक्षित किया जाएगा।
  • भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना: इस स्कीम के अंतर्गत, महिलाओं को स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में जागरूक किया जाएगा, जिससे उन्हें स्वास्थ्य सुरक्षा मिलेगी।
  • सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना: इसके माध्यम से, महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना की जानकारी दी जाएगी ताकि वे इसका लाभ उठा सकें।
  • ई-मित्र योजना: इस स्कीम के तहत, महिलाओं को ई-मित्र सेवाओं के बारे में शिक्षा दी जाएगी, जिससे वे सरकारी सेवाओं का उपयोग कर सकें।
  • ईपीडीएस योजना: इस योजना से, महिलाओं को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी, जो उन्हें आर्थिक सुरक्षा प्रदान करेगी।
  • राजस्थान संपर्क: इसके तहत, महिलाओं को राजस्थान से संपर्क करने के लिए जानकारी प्रदान की जाएगी ताकि वे स्थानीय सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकें।

ई-सखी योजना के तहत प्राप्त की जाने वाली वित्तीय सहायता (E-Sakhi Yojana Rajasthan Financial Assistance)

  • इस योजना के तहत, प्रशिक्षित महिलाओं को ₹2500 की वित्तीय सहायता भी दी जाएगी।
  • इस योजना के लिए धन को सीधे लाभार्थी के खाते में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से भेजा जाएगा।
  • इस योजना के लिए धन को दो किस्तों में दिया जाएगा।
  • प्रशिक्षण शुरू होने पर पहली किस्त – ₹1000
  • प्रशिक्षण समाप्त होने के बाद दूसरी किस्त – ₹1500
Rajasthan E-Sakhi
Rajasthan E-Sakhi

राजस्थान ई-सखी योजना के लाभ (Rajasthan E-Sakhi Yojana Benefits)

  • इस योजना के माध्यम से, राजस्थान की 1.5 लाख स्वयंसेवियों को डिजिटल साक्षरता में प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • इस योजना के तहत लाभार्थी महिलाओं को इस प्रशिक्षण के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा।
  • राजस्थान ई-सखी योजना के तहत शामिल होने वाली महिलाएं ई-सखियां कहलाएंगी और उन्हें प्रमाणपत्र और पुरस्कार भी दिए जाएंगे।
  • प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद, ई-सखियां दरवाजे-दरवाजे जाकर राजस्थान के गाँवों और शहरों में महिलाओं को डिजिटल शिक्षा प्रदान करेंगी।
  • इस योजना के माध्यम से, महिलाएं और राजस्थान राज्य दोनों को लाभ होगा। क्योंकि इस योजना के माध्यम से, महिलाएं डिजिटल साक्षर बनेंगी और राजस्थान को डिजिटल बनाने में मदद करेंगी।

राजस्थान ई-सखी योजना की पात्रता मापदंड (Rajasthan E-Sakhi Yojana Eligibility Criteria)

  • राजस्थान की इच्छुक महिलाएं जो इस योजना में शामिल होकर डिजिटल प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहती हैं, उन्हें नीचे दिए गए पात्रता मापदंडों को पूरा करना होगा।
  • लाभार्थी को स्थायी रूप से राजस्थान का निवासी होना आवश्यक है।
  • 18 वर्ष से 35 वर्ष की आयु की महिलाएं इस योजना के तहत आवेदन कर सकती हैं।
  • आवेदक के पास भामाशाह आईडी होनी चाहिए।
  • आवेदक को कम से कम 12वीं कक्षा पास होना आवश्यक है।
  • उन महिलाओं को भी इस योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त हो सकता है जो सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लेती हैं और उनका अपना स्मार्टफोन है।

राजस्थान ई-सखी योजना के आवश्यक दस्तावेज (Rajasthan E-Sakhi Yojana Documents)

  • भामाशाह कार्ड
  • पता प्रमाणपत्र
  • 12वीं कक्षा का प्रमाणपत्र
  • ईमेल आईडी
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
E-Sakhi Rajasthan
E-Sakhi Rajasthan

राजस्थान ई-सखी योजना के लिए आवेदन कैसे करें (Rajasthan E-Sakhi Yojana How to apply)

  • इस योजना में शामिल होने के लिए आपको एक परीक्षा में उत्तीर्ण करना होगा जो एक खुली प्रतियोगिता परीक्षा है।
  • सबसे पहले, आपको अपने मोबाइल में सखी मोबाइल ऐप को डाउनलोड और ओपन करना होगा।
  • इसके बाद, आपके सामने एप्लिकेशन का होमपेज खुल जाएगा।
  • इस योजना के तहत आपको होमपेज पर “ई-सखी बनें” लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगीं, तो आपके सामने एक नया विंडो खुलेगा जिस पर आपको अपने राजस्थान साइन ऑन आइडेंटिटी (एसएसओ आईडी) की सहायता से लॉगिन करना होगा।
  • इस तरह आप राजस्थान ई-सखी योजना के तहत आवेदन कर सकती हैं।
  • यदि आपके पास एसएसओ आईडी नहीं है, तो आप साइन अप टैब पर क्लिक करके एसएसओ आईडी के लिए रजिस्टर कर सकती हैं। आप भामाशाह आईडी, आधार कार्ड, फेसबुक आईडी या जीमेल आईडी की सहायता से रजिस्टर कर सकती हैं।

राजस्थान ई-सखी मोबाइल ऐप कैसे डाउनलोड करें (Rajasthan E-Sakhi Yojana Download)

  • सबसे पहले, आपको अपने मोबाइल फोन के Google Play Store में जाना होगा।
  • इसके बाद, आपको Google Play Store के सर्च बार में राजस्थान ई-सखी मोबाइल ऐप टाइप करके सर्च करना होगा।
  • अब आपके सामने एक सूची खुलेगी, जिसमें आपको ऊपर की ओर सबसे ऊपर का ई-सखी मोबाइल ऐप पर क्लिक करना होगा।
  • इस योजना के तहत आपको Install Button पर क्लिक करना पड़ेगा।
E-Sakhi Rajasthan
E-Sakhi Rajasthan
  • जैसे ही आप इंस्टॉल बटन पर क्लिक करेंगी, ई-सखी मोबाइल ऐप आपके डिवाइस पर डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • इस तरीके से आप राजस्थान ई-सखी मोबाइल ऐप डाउनलोड कर सकती हैं।

राजस्थान ई-सखी योजना के लिए हेल्पलाइन नंबर

यदि आप राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के माध्यम से लाभ प्राप्त करना चाहती हैं और आपको इस योजना के लिए आवेदन करने में कोई समस्या आ रही है, तो इसके लिए राज्य सरकार द्वारा एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर का पूर्णतः तोल-मुक्त नंबर है, जिसकी जानकारी इस लेख में नीचे दी गई है। आप लेख के माध्यम से योजना के लिए आवश्यक हेल्पलाइन नंबर प्राप्त कर सकती हैं।

हेल्पलाइन नंबर:- 181

Conclusion

इस प्रयास के माध्यम से, राजस्थान सरकार ने महिलाओं को डिजिटल युग में शामिल करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। ई-सखी योजना के माध्यम से उन्हें डिजिटल प्रशिक्षण प्रदान करके समृद्धि की ओर एक कदम आगे बढ़ने में मदद होगी। यह योजना सुनिश्चित करेगी कि हर गाँव की कम से कम एक महिला डिजिटल साक्षर हो जाए ताकि वह पूरे परिवार को शिक्षित कर सके और फिर डिजिटल राजस्थान का सपना साकार हो सके।

Rajasthan E-Sakhi Yojana Important Links

Official Website Click Here
Join our Telegram group Click Here
Join our Whatsapp group Click Here
Home Page Click Here

Rajasthan E-Sakhi Yojana FAQs

Q:- क्या है राजस्थान ई-सखी योजना?

Ans:- राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है जिसका उद्देश्य महिलाओं को डिजिटल साक्षरता में प्रशिक्षित करना है।

Q:- योजना के तहत कौन-कौन से लाभ हैं?

Ans:- योजना के अंतर्गत 1.5 लाख स्वयंसेवियों को डिजिटल साक्षरता में प्रशिक्षण मिलेगा और उन्हें ‘ई-सखी’ कहा जाएगा।

Q:- आवेदन कैसे करें?

Ans:- आवेदकों को राजस्थान ई-सखी मोबाइल ऐप को डाउनलोड करना होगा और आवेदन प्रक्रिया उसके माध्यम से होगी।

Q:- आवश्यक योग्यता क्या है?

Ans:-  आवेदक को राजस्थान का स्थायी निवासी होना चाहिए, और उन्हें कम से कम 12वीं कक्षा पास होना आवश्यक है।

Q:- डिजिटल प्रशिक्षण की अवधि क्या है?

Ans:- प्रशिक्षण 14 घंटे का होगा, जिसे 2 घंटे प्रतिदिन के आधार पर दिया जाएगा, इसे 7 दिनों में पूरा किया जाएगा।

Q:- योजना का हेल्पलाइन नंबर क्या है?

Ans:- योजना के लिए हेल्पलाइन नंबर: 181

यह योजना महिलाओं को डिजिटल जगत से मिलकर उन्हें साक्षरता प्राप्त करने में मदद करने के लिए एक कदम है।

Leave a Comment