मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना: Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana 2024

Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana 2024:- सरकार द्वारा बेरोजगारों को उद्यमों से जोड़ने और महिलाओं की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए कई योजनाएँ चलाई जा रही हैं। उत्तराखंड सरकार द्वारा भी एक समान योजना का ऐलान किया गया है। जिसका नाम है Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana। 

Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana
Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना का शुभारंभ महिलाओं के कल्याण के लिए किया गया है, जो राज्य की स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी हुई हैं। इसके माध्यम से सरकार द्वारा स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को करोड़पति बनाया जाएगा। ताकि उनके जीवन में परिवर्तन आ सके। इस योजना के माध्यम से 2025 तक 1.25 लाख महिलाएं करोड़पति बनाई जाएंगी। ‘मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना‘ के बारे में क्या है, इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज़ और आवेदन प्रक्रिया के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको ध्यान से लेख को अंत तक पढ़ना होगा।

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना 2024

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को स्वावलंबी और सशक्त बनाने के लिए ‘मुख्यमंत्री लाखपति दीदी योजना’ का शुभारंभ करने की घोषणा की है। जिसका उद्घाटन 4 नवंबर 2022 को किया जाएगा। ‘मुख्यमंत्री लाखपति दीदी योजना’ के माध्यम से रूरल डेवलपमेंट डिपार्टमेंट ने 2025 तक 1.25 लाख स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को करोड़पति बनाने का लक्ष्य रखा है।

मुख्यमंत्री लाखपति दीदी योजना को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा शुरू किया जाएगा। 2025 तक, अर्थात राज्य के गठन के 25 वर्ष पूरे होने तक, राज्य में स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी कुल 3 लाख 67 हजार महिलाओं में से 1.25 लाख महिलाएं जीविका मिशन के तहत करोड़पति बनाई जाएंगी। जिससे उनकी वार्षिक आय एक लाख रुपये से ऊपर पहुंचेगी। जिसके कारण महिलाओं की आय में सुधार होगा और इस योजना के माध्यम से महिलाओं का जीवनस्तर भी ऊंचा होगा।

Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana Details

Yojana Name Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana
किसने शुरु किया मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी के द्वारा
राज्य उत्तराखंड
वर्ष 2024
कब शुरू हुई 4 नवंबर 2022 को
लाभार्थी स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाएं
उद्देश्य लखपति बनाना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन/ऑफलाइन
अधिकारिक वेबसाइट जल्द ही लांच होगी   

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना का उद्देश्य

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा ‘मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना‘ की शुरुआत का मुख्य उद्देश्य है स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं की आर्थिक स्थिति को सुधारकर उन्हें करोड़पति बनाना। ताकि महिलाएं स्वाबलंबी बन सकें और समाज में अपने जीवन को जी सकें। और अपने परिवार को पोषण कर सकें। इस वित्तीय वर्ष में, ‘लाखपति दिदी योजना’ के तहत 20 हजार नए स्वयंसहायता समूह बनाए जाएंगे। ताकि महिलाएं अधिकतम योजनाओं का लाभ उठा सकें। इस योजना का आरंभ महिलाओं को सशक्त और स्वाबलंबी बनाने के लिए किया गया है।

Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana
Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना की मुख्य बातें

  • उन महिलाओं को चुना जाएगा जो राज्य के स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी हुई हैं, जिनकी वार्षिक आय बहुत कम है।
  • इस प्रमाणपत्र के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा इस तरह के समूहों को लोन प्रदान किया जाएगा जो अगले महीने ब्लॉक स्तर पर आयोजित होने वाले शिविरों में होंगे।
  • इस योजना के माध्यम से, उद्देश्य है कि उत्पादों को बाजार की मांग के अनुसार बनाने के लिए महिला समूहों को तकनीकी ज्ञान और प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाए।
  • इसके अलावा, उन उत्पादों के विवरणों पर भी ध्यान दिया जाएगा। इन समूहों के विभिन्न स्थानों पर आयोजित उत्सवों में उत्पादों की प्राथमिकता से बिक्री की गरंटी दी जाएगी, विभागीय आउटलेट्स के अलावा।
  • Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana के शुभारंभ के अवसर पर प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को भी घर प्रदान किया जाएगा।
  • कौशल विकास योजना के लाभार्थियों को भी नियुक्ति पत्र प्रदान किया जाएगा।
  • एप्लिकेशन के माध्यम से, मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना के तहत ब्लॉक और जिले स्तर पर प्रशिक्षण समन्वयकों के काम का सर्वेक्षण शुरू किया गया है।
  • कार्य का सर्वेक्षण के बाद, स्वयंसहायता समूहों के विभिन्न समूहों को विभिन्न कार्यों के लिए प्रबंधित किया जाएगा।
  • ताकि उनकी आय 1 लाख रुपये प्रतिवर्ष तक बढ़ाई जा सके।
  • इस वित्तीय वर्ष में, ‘लाखपति दिदी योजना’ के तहत 20 हजार नए स्वयंसहायता समूह बनाए जाएंगे।
  • वर्तमान में, उत्तराखंड के 95 ब्लॉक्स में 4 हजार 310 गाँव संगठन और 259 क्लस्टर स्तर के संगठनों का गठन करके 3 लाख 5000 महिलाओं को 39116 स्वयंसहायता समूहों में जोड़कर 4 लाख से अधिक महिलाएं संगठित हो चुकी हैं।
  • विकास विभाग मंत्री गणेश जोशी ने Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana के दिशानिर्देशों के लिए अधिकारियों के साथ समीक्षा सभा की और उन्होंने विकास से संबंधित योजनाओं को समय पर पूरा करने के लिए निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना की मुख्य विशेषताएं

  • Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana के माध्यम से, राज्य के स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाएं आर्थिक रूप से मजबूत होने का मकसद है।
  • सरकार द्वारा योग्य महिलाओं को करोड़पति बनने के लिए सहायता प्रदान करना।
  • महिलाओं को रोजगार से जोड़ना।
  • महिलाओं के जीवन शैली को बेहतर बनाना है।
  • आय में वृद्धि करना।
  • राज्य की महिलाओं को स्वाबलंबी और सशक्त बनाना।

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना के लाभ

  • उत्तराखंड के स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana के लाभ प्रदान किए जाएंगे।
  • योजना के तहत, राज्य के स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी 1.25 लाख महिलाओं को 2025 तक करोड़पति बनाने का लक्ष्य है।
  • इसके लिए सरकार महिलाओं को तकनीकी, मार्गदर्शन, प्रशिक्षण और उत्पादों की वितरण सुविधाएं प्रदान करेगी।
  • मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना के माध्यम से, रूरल डेवलपमेंट डिपार्टमेंट ने 2025 तक 1.25 लाख स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को करोड़पति बनाने का लक्ष्य रखा है।
  • यह योजना मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा लॉन्च की जाएगी।
  • 2025 तक राज्य की स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी कुल 3,67,000 महिलाओं में से 1.25 लाख महिलाएं जीवनोदय मिशन के तहत करोड़पति बनाई जाएंगी।
  • जिससे उनकी वार्षिक आय एक लाख के ऊपर पहुंचेगी।
  • जिससे महिलाओं की आय में सुधार होगा और इस योजना के माध्यम से महिलाओं का जीवनस्तर भी ऊचा हो जाएगा।
Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana
Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना की पात्रता

  • Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana के लिए आवेदक को उत्तराखंड का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाएं इस योजना के लाभार्थी बन सकती हैं।
  • इस योजना के लिए केवल महिलाएं ही आवेदन कर सकेंगी।

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • आई सर्टिफिकेट
  • पता प्रमाणपत्र
  • बैंक खाता का बैंक स्टेटमेंट
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना आवेदन प्रक्रिया

जैसा कि हमने पहले ही बताया है कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को स्वाबलंबी और सशक्त बनाने के लिए ‘मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना‘ का शुभारंभ किया है। जिसके माध्यम से ग्रामीण विकास विभाग ने 2025 तक 1.25 लाख स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को करोड़पति बनाने का लक्ष्य रखा है। जो भी इस योजना के तहत आवेदन करना चाहती हैं, उन्हें थोड़ा सा और प्रतीक्षा करनी होगी। क्योंकि उत्तराखंड सरकार ने इस योजना के लिए आधिकारिक वेबसाइट का शुभारंभ नहीं किया है। जैसी ही सरकार द्वारा Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana के लिए आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च होगी। तो हम इस लेख के माध्यम से आपको सूचित करेंगे।

Conclusion

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना उत्तराखंड की महिलाओं को स्वाबलंबी बनाने और उन्हें करोड़पति बनाने का प्रयास है। यह योजना महिलाओं को स्वयंसहायता समूहों के माध्यम से आर्थिक रूप से मजबूत करने का माध्यम है, जिससे उनकी आय में सुधार होगा और जीवनस्तर बेहतर होगा। इस अभियान से सामाजिक और आर्थिक समृद्धि की प्राप्ति होगी, जिससे उत्तराखंड की महिलाएं स्वतंत्र और सशक्त होंगी।

Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana Important Links

Official Website Click Here
Join our Telegram group Click Here
Join our Whatsapp group Click Here
Home Page Click Here

Mukhymantri Lakhpati Didi Yojana FAQs

Q:- योजना क्या है?

Ans:- मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना उत्तराखंड की महिलाओं को स्वाबलंबी बनाने और करोड़पति बनाने का उद्देश्य रखती है।

Q:- इसका उद्देश्य क्या है?

Ans:- इसका मुख्य उद्देश्य राज्य की स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं की आर्थिक स्थिति में सुधार करना है और उन्हें करोड़पति बनाना है।

Q:- योजना की शुरुआत कब हुई?

Ans:- मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना की शुरुआत 4 नवंबर 2022 को हुई है।

Q:- कौन कौन से लाभार्थी हो सकते हैं?

Ans:- इस योजना के लाभार्थी मुख्य रूप से राज्य के स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाएं हो सकती हैं।

Q:- आवेदन कैसे करें?.

Ans:- आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन/ऑफलाइन हो सकती है, लेकिन विवरण के लिए आधिकारिक वेबसाइट का इंतजार करना होगा।

Q:- योजना की मुख्य विशेषताएं क्या हैं?

Ans:- इस योजना के अंतर्गत, स्वयंसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त करने, उन्हें रोजगार से जोड़ने, और उनकी जीवनस्तर में सुधार करने के लिए कई उपाय हैं।

Leave a Comment